कुत्तों में कब्ज क्या होता है?

कब्ज एक अस्थाई चिकित्सीय स्थिति है जिसमे पेट से एक नियमित अंतराल में मल या स्टूल त्यागने में असमर्थता होती है, कुत्तों के लिए नियमित अंतराल है एक दिन में 1 से 2 बार।

गंभीर कब्ज एक पुरानी स्थिति होती है जिसमे पेट में बहुत अधिक सुखा मल होता है, जो कि इतना कठोर और ठोस हो जाता है कि कुत्ता बिल्कुल भी मलत्याग नहीं कर पाता है।

कब्ज़ के कारण?

कुत्तों में कब्ज़ के कुछ सामान्य कारण निम्नलिखित हैं:

  • पेट की बीमारी
  • दवाईयां जिनके कारण कब्ज़ होता है जैसे कि antihistamines, diuretics, narcotic दर्द निवारक, and sucralfate)
  • डर, घबराहट और दूसरी व्यावहारिक स्थितियां
  • आंतों में रुकावट
  • Harmon से जुड़ी बीमारी (hypothyroidism, hyperparathyroidism)
  • व्यायाम की कमी
  • दिमागी स्थिति या बीमारी
  • osteoarthritis जैसी दर्दनाक स्थिति जो शौच को दर्दनाक बनाती है
  • आहार में अचानक हुआ बदलाव या नए खाद्य पदार्थों का सेवन
  • पेट या मलद्वार में ट्यूमर या मस्से
  • शरीर में पानी की कमी

कब्ज़ के लक्षण?

कब्ज़ के लक्षण निम्नलिखित हैं:

  • 2 दिन से अधिक समय तक शौच ना होना
  • शौच करने में परेशानी होना
  • सख्त मल
  • शौच करते समय रोना
  • गुदा क्षेत्र के पास फंसा हुआ मल

कब्ज़ की जांच कैसे करें?

आपके पशु चिकित्सक के द्वारा की जाने वाली जांच निम्नलिखित हैं:

  • कुत्ते के पेट की जांच करें और महसूस करें कि वह ठोस है या नहीं।
  • ट्यूमर, किसी बाहरी चीज इत्यादि की जांच के लिए गुदा का परीक्षण करें।
  • पेट का रेडियोग्राफ
  • पेट का अल्ट्रासाउंड (सिर्फ गंभीर मामलों में)
  • पानी के कमी या संक्रमण की जांच के लिए खून का परीक्षण
  • मूत्र की जांच

यदि आपके कुत्ते को कब्ज़ है तो क्या करना चाहिए?

यदि आपको संदेह है कि आपके कुत्ते को कब्ज़ है और यह हाल ही में हो रहा है तो आपके कुत्ते को कब्ज़ से आराम दिलाने के लिए कुछ घरेलू नुख्शे है, जो आप प्रयोग कर सकते हैं:

कद्दू खिलाएं - कद्दू, दस्त और dehydration, दोनों में लाभकारी होता है। कद्दू में फाइबर और पानी दोनों प्रचुर मात्रा में होते हैं जो दस्त और dehydration दोनों में सहायक होते हैं।

कुत्ते का डिब्बा बंद खाना - डिब्बाबंद भोजन में पानी की मात्रा, dehydration या पानी के सेवन की कमी के कारण होने वाले कब्ज में मदद कर सकती है।

फाइबर की आपूर्ति

भोजन और जड़ी बूटी जैसे कि जैतून का तेल, अदरक इत्यादि।

अपने कुत्ते को hyderate करें - सुनिश्चित करें कि ताजा पानी आपके कुत्ते की पहुंच में हो और शायद इलेक्ट्रोलाइट की आपूर्ति भी। अपने कुत्ते को व्यायाम या कुछ अन्य शारीरिक गतिविधि कराएं।

कब्ज़ से पीड़ित कुत्ते को पशु चिकित्सक के पास कब लेकर जाना चाहिए?

जैसे ही आपको अपने कुत्ते के कब्ज़ के बारे में पता चले तुरंत आपको अपने कुत्ते को पशु चिकित्सक के पास लेकर जाना चाहिए।

यदि आपके कुत्ते को अक्सर कब्ज़ हो जाता है और इसका उपचार नहीं हुआ है तो यह कब्ज़ की एक गंभीर स्थिति में बदल सकता है। गंभीर कब्ज़ में सुखा मल बड़ी मात्रा में मलद्वार में फंस जाता है जिसके कारण कुत्ते को मल त्याग करने में बहुत परेशानी होती है। यदि कब्ज़ का उपचार ना किया जाए तो यह एक दूसरी परेशानी का कारण बन सकता है जिसे megacolon के तौर पर जाना जाता है। Megacolon की स्थिति में, जांच में कुत्ते का पेट विकृत पाया गया है और मल को आगे ले जाने में सक्षम नहीं है।

जब आप पशु चिकित्सक के अस्पताल जाएंगे तो आपसे निम्नलिखित सवाल पूछे जा सकते हैं:

  • मल का रंग क्या है और उसका घनापन कितना है?
  • आखिरी बार कब आपके कुत्ते ने सामान्य रूप से मल त्याग किया था?
  • क्या कुत्ते के आहार में बदलाव किए गए हैं?
  • क्या कुत्ते ने कोई पाचन के अयोग्य खाना खाया है जैसे कि हड्डियां, छोटे खिलौने आदि?
  • क्या मालत्याग करते समय कोई परेशानी या दर्द होता है?
  • क्या आप कुत्ते का उपचार कर रहे हैं?
  • कुत्ता कितने पानी का सेवन करता है?
  • तनाव या परेशानी के अन्य लक्षण, विशेष रूप से उल्टी, सुस्ती, या सूजन।

कब्ज़ का उपचार?

ब आपको संदेह हो कि आपके कुत्ते को कब्ज़ हो सकता है तो आपको एक पशु चिकित्सक के पास जरूर जाना चाहिए। पशु चिकित्सक, उचित परीक्षण और कब्ज़ के कारण को सुनिश्चित करने के बाद उपचार के तरीके को तय करेंगे।

कब्ज़ के सामान्य उपचार निम्नलिखित हैं:

  • कुत्ते के फाइबर के सेवन को बढ़ा दें जैसे कि कद्दू दें।
  • कुत्ते को laxative syrup या मल को मुलायम बनाने वाला Enema उपचार दें।
  • बड़ी आंत को मजबूत बनाने के लिए दवाई दें।
  • हालांकि, उम्र बढ़ने के साथ सभी कुत्तों को कब्ज़ होगा लेकिन रोक थाम के उपायों द्वारा ऐसी समस्या का होना कम किया जा सकता है।

कब्ज़ को कैसे रोकें?

हालांकि, अपने जीवन में कभी ना कभी सभी कुत्ते कब्ज़ का सामना करते हैं लेकिन निम्नलिखित उपाय कब्ज़ की घटना को कम करने में सहायता करेंगे:

  • कुत्ते को प्रतिदिन सैर या व्यायाम के लिए लेकर जाएं।
  • कुत्तों को नियमित रूप से पानी दें।
  • यदि दवाईयां का प्रयोग कर रहे है तो कुत्तों को prebiotics दें।
  • पचने ना योग्य पदार्थ, जैसे कि हड्डियां आदि ना दें।
  • फाइबर की प्रचुरता वाला खाना दें।
  • पेट को स्वस्थ रखने के लिए Prebiotics दें।

कौन से कुत्ते कब्ज़ के लिए अतिसंवेदनशील होते हैं?

वैसे तो किसी भी कुत्ते को कब्ज़ हो सकता है लेकिन यह समस्या आमतौर पर उम्रदराज या वृद्ध कुत्तों में अधिक होती है।