नसबंदी क्या है?

बंध्यीकरण एक स्पष्ट सर्जरी है जो एक पुरुष कुत्ते को इस तरह से स्वच्छ कर देती है कि इसके बाद वह पिल्लों को जन्म देने में सक्षम नही रहता है। इसके कई लाभ है जैसे कि सुनिश्चित किया जा सके कि कुत्ते पिल्लों पिता ना बन पाए। बंध्यीकरण की प्रक्रिया कई विशिष्ट बीमारियों के खतरे को, अवांछनीय आदतें और विभिन्न कुत्तों के साथ टकराव की परिस्थिति को खत्म कर देता है।

नसबंदी कैसे की जाती है?

यह एक बहुत सीधी व स्पष्ट चिकित्सीय प्रक्रिया है। एक पशु चिकित्सक कुत्ते को बेहोश कर देते हैं, अंडकोश से पहले एक प्रवेश बिंदु बनाया जाता है, बॉल्स के आधार को काटा जाता है और इसके बाद कटे हुए हिस्से से जनन ग्रंथि को निकाल दिया जाता है। ज्यादातर प्रवेश बिंदु को टांके लगाने की आवश्यकता होती है, संभवत जख्म ठीक होने के दौरान कुत्ते को इस हिस्से को चाटने से रोकने के लिए एक एलिजाबेथ पट्टे की आवश्यकता हो सकती है। लगभग चौदह से पंद्रह दिन के बाद, कटा हुआ हिस्सा पूरी तरह से ठीक हो जाता है और कुत्ता अपने सक्रिय गतिशील जीवन को जारी कर सकता है।

बंध्यीकरण प्रक्रिया को लेकर कई कल्पनाएं हैं, इसके किसी तरीके के एक विकल्प पर रुकने से पहले आपको वास्तविकता के बारे में पूर्णरूप से जानकारी ले लेनी चाहिए। पुरुष कुत्ते की बंध्यीकरण करने से पहले कुछ बातें है जिनके बारे में आपको विचार करना चाहिए।

बंध्यीकरण के लाभ

  1. स्वाभाविक रूप से, आपके पुरुष कुत्ते के बंध्यीकरण का एक जरूरी लाभ यह है कि वह किसी पिल्ले को जन्म नही देगा और पिल्लों की जनसंख्या में अनावश्यक बढ़ोतरी नही करेगा। हालांकि सिर्फ यही नही, बंध्यीकरण के और भी कई लाभ हैं।
  2. कुछ निश्चित प्रकार की बीमारियां होने की संभावना बहुत कम हो जाती हैं जैसे कि अंडकोष में घातक बढ़ोतरी और पौरुष ग्रंथि की बीमारियां।
  3. संभवत कम टेस्टोस्टेरोन के साथ वह अधिक व्यवस्थित रहेगा और इस कारण वह और अधिक शांत रहेगा।
  4. उम्र दराज कुत्तों के मामले में, नसबंदी बढ़ी हुई पौरुष ग्रंथि के आकार को कम करता है। वह विभिन्न कुत्तों के साथ झगड़ा कम कर देगा, विशेष रूप से पुरुष कुत्तों से।
  5. टेस्टोस्टेरोन के स्तर में कमी के कारण शिथिलता, रूखा व्यवहार, टकराव और दूसरी प्रमुखता सम्बन्धित आदतों में सुधार आता है।

आप कुत्ते की नसबंदी कब कर सकते है?

एक पुरुष कुत्ते की नसबंदी दो माह की उम्र के बाद की जा सकती है। कुछ वर्षो पहले, ज्यादातर पशु चिकित्सक उनके किशोरावस्था में पहुंचने तक, लगभग छः महीने तक रुकने की सलाह देते थे, बल्कि कुछ पशु चिकित्सक सभी चीजों के बावजूद आज भी यही सलाह देते हैं। हालांकि, किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले अपने पशु चिकित्सक से परामर्श लेना सबसे अच्छा रहेगा।

जिन कुत्तों की नसबंदी उनके यौवन में पहुंचने से पहले हो जाती है, उनका विकास उन कुत्तों की तुलना में अधिक होता है जिनकी नशबंदी किशोरावस्था के बाद होती है क्योंकि टेस्टोस्टेरोन हड्डियों के विकास के साथ जुड़ा होता है, कई बार विकास इच्छा अनुरूप होता है और कई बार नही होता। कुत्ते पांच से छ साल की उम्र तक पूरी तरह से विकसित हो जाते है जो कि बहुत तीव्र है।

आपके कुत्ते की नसबंदी नही होने के मामले में, यह समस्या Cryptorchidism कहलाती है। जिन कुत्तों को Cryptorchidism बीमारी के प्रभाव का अनुभव होता है उनको सामान्य कुत्तों की तुलना में टेस्टिकुलर ट्यूमर अधिक होता है। इसलिए, इन विशेष कुत्तों की नशबंदी होना आवश्यक है।

बड़ी उम्र के कुत्तों की नशबंदी में चिकित्सीय प्रक्रिया से होने वाली परेशानियों का खतरा अधिक होता है, और जिन कुत्तों का वजन अधिक या अधिक कमजोरी होती है उन्हें भी इसी समस्या का सामना करना पड़ता है। लेकिन यह समस्याएं आपके पशु चिकित्सक संभाल सकते हैं और इस तकनीक से होने वाले फायदे खतरों से अधिक हैं। यदि आप इस समस्या आपको परेशान कर रही है तो अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

कुत्ते को चिकित्सय प्रक्रिया के लिए तैयार करना

आपके पशु चिकित्सक यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपका कुत्ता चिकित्सीय प्रक्रिया से गुजरने के लिए पर्याप्त रूप से सक्रिय और अच्छा है और उसकी ऐसी कोई अस्वस्थ स्थिति नही है जो बेहोश करने के निर्णय को प्रभावित करे, प्रक्रिया के पूर्व रक्त की जांच करेंगे। सामान्यत, सक्रिय कुत्तों में ऐसी समस्याएं नही होती हैं, फिर भी यह बेहतर होगा कि इस प्रक्रिया से पहले रक्त की जांच करा लें।

मार्गदर्शन का पालन करना सर्वोत्तम है और आपको चिकित्सा प्रक्रिया से कम से कम आठ घंटे पहले कुत्ते को खाली पेट रखने की सलाह दी जाती है क्योंकि बेहोशी के कारण जी मितला सकता है। पानी पीना आम तौर पर ठीक है, हालांकि अपने पशु चिकित्सक से परामर्श करें।

सर्जरी के पूरा होने के बाद अपेक्षाएं

सामान्यत नशबंदी की प्रक्रिया आधारभूत और स्पष्ट होती है। आपके पशु चिकित्सक, चिकित्सीय प्रक्रिया से पहले देखभाल के बारे में आपका मार्गदर्शन करेंगे, और आपका कुत्ता लगभग दो या तीन हफ्तों में पूरी तरह से ठीक हो जाएगा। कुछ चीजें हैं जिनका नसबंदी के बाद आपको इंतजार करना चाहिए।

पुरुष कुत्ते उसी दिन घर वापस आ सकते हैं जिस दिन वे इस प्रक्रिया से गुजरे हैं।

कुत्तों का जी मितला सकता है और हो सकता है कि एक या दो दिन तक उनकी खाना खाने की इच्छा ना हो। चिंता करने और अपने कुत्ते को जबरदस्ती खाना खिलाने की जरूरत नही है, वह ठीक हो जायेगा भले ही वह एक दो समय तक भोजन न करे।

चिकित्सीय प्रक्रिया के बाद आरंभिक दिनों में कुत्ते के अंडकोश पर सूजन आयेगी। आपको लग सकता है कि पशु चिकित्सक ने चिकित्सीय प्रक्रिया की भी है या नही, ऐसा इसलिए क्योंकि यह लगभग ऐसा ही दिखता है जैसे कि प्रक्रिया से पहले पहले दिखता था। केवल एक अंतर है जो है सूजन। यदि कुत्ता प्रवेश बिंदु को चाट लेता है तो अक्सर सूजन बढ़ जाती है।

यदि आपका कुत्ता लगातार इस हिस्से को चाट रहा है तो आवश्यक है कि आप उसकी गर्दन के चारो तरफ एलिजाबेथ पट्टा पहनाएं।

प्रक्रिया के दौरान यदि पशु चिकित्सक ने टांके लगाए है तो टांको के लिए प्रयोग किए गए सामग्री के आधार पर, एक हफ्ते या दस दिनों के बाद टांको को निकलने की जरूरत हो सकती है। आपके पशु चिकित्सक आपका मार्गदर्शन करेंगे कि किस प्रकार जांच करें कि प्रवेश बिंदु ठीक हो रहा है। इन दिनों टांके कुछ समय के बाद खुद ही निकल जाते है।

नसबंदी के बाद, कुत्ते का अंडकोष विकास के अनुरूप बढ़ जायेगा और आप इसे देख नही सकेंगे। विकसित कुत्तों को, खाली अंडकोष से लगातार त्वचा आती रहेगी।

सामान्यत, ज्यादातर कुत्ते अगले दिन खेलना चाहते है, लेकिन कुछ दिनों के लिए उसकी इस क्रिया को कम कर दें ताकि प्रवेश द्वार खुले नही।

प्रवेश द्वार के आस पास थोड़ा घाव हो सकता है लेकिन इसमें चिंता की कोई बात नही है।

प्रक्रिया के बाद की जाने वाली सावधानियां

यदि प्रवेश बिंदु से कोई स्राव हो रहा है या आपके कुत्ते को बहुत अधिक चुभन या दर्द हो रहा है तो अपने पशु चिकित्सक से संपर्क करें। कुत्ते की लिए दर्द निवारक खाना सामान्य नही होता है।

कुत्ते के लगातार टांको को चाटने की स्थिति में उसे ऐसा करने से रोकने के लिए एलिजाबेथ पट्टा पहनाएं। कुछ कुत्ता को इन्हे पहनकर घूमने में परेशानी का अनुभव होता है और वे मेज या दरवाजे से टकराते हैं। फिर भी आराम करते समय भी अपने कुत्ते को यह पहनाएं, क्योंकि चाटने के कारण प्रवेश बिंदु अच्छे से बंद नही पाएगा।

यदि आपको कुछ असामान्य दुष्प्रभाव या बदलाव दिखाई दें जिनके कारण आपको चिंता हो रही है तो अपने पशु चिकित्सक से परामर्श लें। यदि आपका कुत्ता अलग व्यवहार कर रहा है तो आप निम्नलिखित चिकित्सीय प्रक्रिया को ध्यान में रख सकते है। वह सुस्त या जीवन शक्ति का अभाव महसूस कर सकता है। आप चिंता करने से पहले उसे ठीक होने के लिए थोड़ा समय दें। नशबंदी तकनीक आपके कुत्ते को अधिक शांत व स्थिर बना सकती है, लेकिन, सामान्यत कुत्ते ठीक होने के बाद अपने मूल व्यवहार पर वापस आ जाते हैं। हालांकि कुछ कुत्ते दूसरो की तुलना में अधिक प्रभावित होते हैं, यदि आपको चिंता हो रही है तो अपने पशु चिकित्सक से संपर्क करें।

क्या आपका कुत्ता नशबंदी की प्रक्रिया से गुजरा है? क्या आप उन लोगों के लिए अपना अनुभव साझा करना चाहेंगे जो लोग अपने कुत्ते के लिए इस प्रक्रिया के बारे में सोच रहे है। हमे नीचे टिप्पणी में बताएं।